E-mail: info@mygkss.org | Call: 9330123999 / 9997222654 | Country : INDIA  
Welcome To Gow Krishak Swabhimaan Sangathan

गौपुत्र

गौपुत्र = राम १ “गोवंश” से ‘माता’ का जीवंत संबंध स्थापित करें। उसका नाम रखें। उसका चित्र पॉकेट +पूजा घर में रखें। गौपालक को पालन खर्च १००० रू. प्रतिमाह भेजें। हर माह मिलें/फोन पर सुध लें

गौपालक

गौपालक = कृष्ण (किसान/गौपालक/गौशाला) जो गौ माँ का सुखपूर्वक पालन करे। चित्र गौपुत्र को भेजे। गौपुत्र से १००० रु प्रतिमाह प्राप्त करे। प्राप्ति+कुशलता की सुचना दे। मरने पर खेत में समाधि दे।

प्रेरक

प्रेरक = कल्याणमित्र संतों, संस्थाओं, संबंधियों को प्रेरित करे। उन्हें यह सौभाग्य दें। प्रतिदिन/प्रतिहफ्ता समय दे = प्रेरित करे। अपना मासिक लक्ष्य स्वयं तय कर, सूचित करें।

आदर्श गौशाला

आदर्श गौशाला = ब्रज - केवल देसी गौवंश हो, खुला रहे, हरा चारा मिलें, गोबर-गौमूत्र से उत्पाद बने, इलाज हो, चरने जाये, गोबर-गैस-प्लांट हो, सवामनी+घी बनता हो, पंचगब्य दुकान हो,

इस अद्भुत योजना अद्भुत लाभ:

१) एक गौ माँ, तीनो को सुखी+समृद्ध करेगी-प्रेरक, गौपुत्र/गौपुत्री, गौपालक किसान/ गौशाला को।
२) गोबर-गौमूत्र की खाद से धरती माँ, सोना उगलेगी=जैविक अन्न-फल-सब्जी उत्पन्न करेगी।  
३) गौपुत्र/गौपुत्री, किसान/ गौशाला से पँचगब्य+जैविक उत्पाद खरीद कर, सुखी+स्वस्थ होगा। 
४) व्यक्ति, देश और समाज में सद्बुध्दि बढ़ेगी। प्राणिमात्र की रक्षा का मार्ग प्रशस्त होगा।
५) ”माँ” की तरह देखभाल करेगी। संकट हरेगी। वैतरणी पार करायेगी= मानव-जीवन सफल होगा।

यदि आपके पास वाहन और घर है, तो भी आप गौपुत्र + प्रेरक बन सकते हैं। यदि आप १०००० या ज्यादा प्रतिमाह कमाते हैं, तो आप गौपुत्र बन सकते हैं।

संगठन, गौपुत्र-गौपुत्री और गौपालक/किसान/गौशाला; प्रेरकों-संतोँ-सज्जनों-संस्थाओं का विवरण रखेगा+उनमे संबंध स्थापित करायेगा।
  संगठन का सारा खर्च संचालन समिति के सदस्य उठायेंगे। 
पैसों का लेन-देन, गौपुत्र-गुपुत्री और गौपालक/किसान/गौशाला के बीच होगा।
यह अराजनैतिक संगठन, शहर और गाँव के बीच, + गौपालक-किसान/गौशाला और गौपुत्र-गौपुत्री के बीच पुल का काम करेगा। 
यदि आप मातृशक्ति=गृहणी/नहीं कमाने वाले युवा हैं, तो आप प्रेरक बन, अनेकों को गौपुत्र बना सकती/सकते हैं। 
व्यक्ति, समाज और राष्ट्र के उत्थान और कल्याण हेतु आवश्यकता है:

१) प्रेरकों की जो श्रीमंतों को गौपुत्र+किसानों को गौपालक बनने की प्रेरणा दे।
२) शहरों में श्रीमंतों की जो गौपुत्र बने + गाँवों में किसान की जो गौपालक बने।
३) संतो + संस्थाओं की जो सबको को गौपुत्र/गौपालक बनने की प्रेरणा दे।
४) सफलता हेतु सबके सुझाव, सहयोग, सहभागिता, सक्रियता, मुखरता की।
५) संचालन समिति में समय दानी सज्जनो की + संरक्षकों में निष्ठावान गौभक्तों+संतो की।

फॉर्म हेतु अपना ईमेल ID 9330123999 पर SMS करें, या सादे कागज में निम्नलिखित विवरण दें:


गौपुत्र/गौपुत्री: नाम, पिता/पति नाम, पता, फोन/मोबा, ईमेल, प्रेरक नाम+नंबर, दिनांक+हस्ताक्षर 
प्रेरक: नाम, पिता/पति नाम, फोन/मोबा, ईमेल, प्रेरक का नाम+नंबर, कार्यक्षेत्र, दिनांक+हस्ताक्षर 
गौपालक: नाम, पिता नाम, पता, फोन/मोबा, प्रेरक+साक्षी का नाम+नंबर, बैंक विवरण, हस्ताक्षर
गौशाला: नाम+पता, संचालक का नाम+नंबर, ईमेल, बैंक विवरण, गौवंश संख्या, सविशेष, हस्ताक्षर
नेतृत्व : ठाकुर रामपाल सिंह ex RTO उत्तराखंड 9997222654/ 9927863333/ 9634087367

2017 All Rights Reserved | by : Maharor Digital Solutions